Header Ads

ताज़ा खबर
recentposts

चुम्मे के बदले यूपी-बिहार देने के दावे पर बुरे फंसे गोविंदा, आज थी झारखण्ड के पाकुर कोर्ट में पेशीGovinda-land-in-legal-trouble-for-this-famous-90s-song



क्या आपने कभी गोविंदा का गाना 'एक चुम्मा तू मुझको उधार दे दे' सुना है? अरे, ज़रूर सुना होगा जनाब और काफी लोगों की जुबान पर ये काफी समय तक रहा भी होगा. क्या हो अगर हम आपको बताएं कि इस गाने की वजह से अब गोविंदा बुरे फसे हैं! ये गाना लिखते वक्त इसकी लेखिका रानी मलिक ने ये कभी नहीं सोचा होगा कि चुम्मे के बदले यूपी, बिहार देने का दावा इन पर कितना भारी पड़ेगा. साल 2000 में जब झारखण्ड, बिहार का भाग था उस वक्त एक वकील ने इस फिल्म की टीम पर बिहार की बदनामी का तर्क देते हुए मानहानि का केस किया था. इस केस के करीब 16 साल बाद आज यानि 18 अक्टूबर को गोविंदा की पेशी थी झारखण्ड के पाकुर कोर्ट में.


Bombay Times के मुताबिक, इस केस की सुनवाई बीते 30 जून को होनी थी. काफी वॉर्निंग के बाद कोई भी अभिनेता कोर्ट में हाज़िर नहीं हुआ, जिसके बाद उनके खिलाफ 20 जुलाई को अरेस्ट वॉरेंट जारी हो गया था. पर इसके बाद भी उनके खिलाफ कोई एक्शन नहीं लिया गया. रिपोर्ट के अनुसार इस फिल्म के निर्देशक विमल कुमार, गायक उदित नारायण और अल्का यागनिक, म्यूज़िक कंपोज़र्स आनंद और मिलिंद और गीत लेखिका रानी मलिक पर 5 मई 2001 को गौर ज़मानती वॉरेंट जारी हो चुका है.

No comments:

Powered by Blogger.