Header Ads

ताज़ा खबर
recentposts

जब अमित शाह को हुआ असुरक्षित महसूस, लगाया योगी जी को फ़ोन, फिर योगी जी ने जो किया उसे जानकर आप गदगद हो उठेंगे.. yogi ji was always there for amit sah


बीजेपी को उत्तरप्रदेश में प्रचड़ बहुमत मिलने के बाद एक सवाल सबके मन में उठ रहा था की आखिर कौन उत्तरप्रदेश का अगला मुख्यमंत्री बनेगा? और इसके बाद उत्तरप्रदेश के मुख्यमंत्री पद की दौड़ में जब योगी आदित्यनाथ जी नाम सबके सामने आया तो एक और सवाल खड़ा हो गया की आखिर योगी आदित्यनाथ किस बड़े नेता की पसंद है ? कई अटकले जोरो पर थी की क्या योगी जी PM मोदी की पसंद है या अमित शाह की या फिर सीधा संघ ने दखल देकर योगी जी का नाम आगे किया है ?


कई मीडिया हाउस में ये चर्चा जोरो पर थी की PM मोदी और बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह जी गाजीपुर से सांसद मनोज सिन्हा को उत्तरप्रदेश का अगला मुख्यमंत्री बनाना चाहते थे, फिर माना जाता है आखिरी वक्त पर किसी का एक कॉल आने से उत्तरप्रदेश का अगला मुख्यमंत्री योगी जी को बना दिया गया! अगले पेज पर जानिए उस हादसे के बारे में जिसके बाद योगी आदित्यनाथ बीजेपी के राष्टीय अध्यक्ष अमित शाह के करीब आने में कामयाब रहे….

वहीँ दूसरी और कई राजनितिक पंडितो का मानना है की अमित शाह जी की पहली पसंद योगी जी है और इसकी एक बेहद ही अहम् वजह है जिसे जानकर यकीनन आपको उत्तरप्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पर गर्व महसूस होगा. आपकी जानकारी के लिए बता दें एक सर्वे के मुताबिक PM मोदी के बाद योगी आदित्यनाथ बीजेपी के सबसे लोकप्रिय नेता है. ऐसा भी दावा किया जा है उनको मुख्यमंत्री बनाने के पीछे इस सर्वे का बड़ा हाथ रहा है.


सूत्रों के अनुसार बीजेपी के राष्टीय अध्यक्ष अमित शाह योगी जी की जमीन पर पकड़, और भारी लोकप्रियता और संगठन क्षमता से बेहद ही प्रभावित रहे है. क्या आपको मालूम है साल 2013 में अमित शाह जी के साथ एक ऐसी घटना घटी थी जिसने अमित शाह जी को योगी आदित्यनाथ के और करीब ला दिया था. अगले पेज पर जानिए अमित शाह जी के साथ वो कौनसी घटना गति थी जिसके बाद योगी जी ने अमित शाह के मन में एक खास छवि बना ली….

आपको बता दें 2013 में योगी आदित्यनाथ जी को बीजेपी ने महासचिव बनाते हुए उत्तरप्रदेश का प्रभार सौंपा था. और इसी दौरान अमित शाह जी जब एक बार गोरखपुर के लिए जा रहे थे तब रास्ते में कुछ गाँव वाले उग्र प्रदर्शन कर रहे थे.


जानकारी के अनुसार उस समय अमित शाह की सुरक्ष्या चाक चौबंध नहीं थी और अपने काफिले को मुसीबत में घिरा देख अमित शाह जी ने योगी जी के पास कॉल किया था और मदद मांगी थी. इस कॉल के तुरंत बाद देखते ही देखते हिंदू युवा वाहिनी के कई कार्यकर्त्ता कुछ ही मिनट में अमित शाह के काफिले के पास पहुच गए थे और उन्होंने अमित शाह के काफिले के लिए रास्ता खुलवा दिया था. ऐसा माना जाता है इस घटनाक्रम के बाद ही योगी आदित्यनाथ जी ने अमित शाह जी के दिल में एक खास जगह बना ली थी.

No comments:

Powered by Blogger.